अंतरराष्‍ट्रीय मानवाधिकार दिवस शायरी – International Human Rights Day Shayari | International Human Rights Day Poem

अंतरराष्‍ट्रीय मानवाधिकार दिवस शायरी – International Human Rights Day Shayari | International Human Rights Day Poem

December 7, 2018 0 By Rupesh Goyal

International Human Rights Day Shayari 2019 :- अंतरराष्‍ट्रीय मानवाधिकार दिवस ये दिन मानव अधिकारों के सभी मुद्दों पर चर्चा करने के लिए राजनीतिक सम्मेलनों, बैठकों, प्रदर्शनियों, सांस्कृतिक कार्यक्रमों, वाद-विवाद और कई और कार्यक्रमों का आयोजन करके मनाया जाता है। कई सरकारी सिविल और गैर सरकारी संगठन सक्रिय रूप से मानव अधिकार कार्यक्रमों में भाग लेते हैं। आयिये पड़ते है इस पोस्ट को अंतरराष्‍ट्रीय मानवाधिकार दिवस शायरी, International Human Rights Day Poem, International Human Rights Day Shayari और शेयर करो फेसबुक टवीटर इंस्टाग्राम व्हाट्सप्प पर.

अंतरराष्‍ट्रीय मानवाधिकार दिवस शायरी

अंतरराष्‍ट्रीय मानवाधिकार दिवस शायरी - International Human Rights Day Shayari

अंतरराष्‍ट्रीय मानवाधिकार दिवस शायरी – International Human Rights Day Shayari

मानवाधिकार ~ किसी की खुशियों को अपने वश में करना सबसे बड़ा शोषण है। मानवाधिकारों की समझ हर इंसान में होनी चाहिए और उन्हे अपने अधिकारों को पाने का पूरा हक़ है। Click To Tweet

International Human Rights Day Poem

अंतरराष्‍ट्रीय मानवाधिकार दिवस शायरी - International Human Rights Day Shayari

हम हमारी जाति, हमारे अधिकार वास्ते,
हर महीने करवाते रहे, भारत-बंध!
वो अपना जिस्म कटवाकर,
आँखे नुचवाकर, मरकर,
भारत का बेटा होने का, निभा रहा था, सम्बंध।।
….
वो जो हाथों में तख्तियां लेकर,
जंतर-मंतर की जमीन को गर्म करें,
सरकारों पर तो बहुत हैं चीखें,
बोले अब मानव-अधिकारों पर,
वर्ना शर्म से डूब मरे।।
….
क्यों सैनिक-परिवारों के,
अश्को से, पाप हमारे धुलते नहीं,
धुलेंगे भी कैसे, उनकी तरह,
हमारे बच्चे मौत का झूला झूलते नहीं…।
….
मेरे राम तेरी धरा पर,
ऐसा भी शुभ संयोग हो..
भले ही शर्म से, पर इनके लिए भी,
मानव-अधिकार आयोग हो।।

मानव अधिकार दिवस पर नारे हिंदी में – Human Rights Day Slogans In Hindi 2018

International Human Rights Day – अंतरराष्‍ट्रीय मानवाधिकार दिवस

अंतरराष्‍ट्रीय मानवाधिकार दिवस शायरी - International Human Rights Day Shayari

अगर आप “मानव अधिकार दिवस पर नारे हिंदी में, International Human Rights Day Poem, मानव अधिकार दिवस पर नारे 2018, मानव अधिकार दिवस पर नारे इन हिंदी, मानव अधिकार दिवस पर स्लोगन इन हिंदी,राष्ट्रीय प्रदूषण नियंत्रण दिवस पर नारे, National Pollution Control Day Slogan in Hindi के माध्यम से श्रद्धांजलि दे. मानव अधिकार दिवस पर स्लोगन हिंदी में, विश्व हृदय दिवस पर स्लोगन 2018, Happy World Heart Day Quotes in Hindi 2018,विश्व मानव अधिकार दिवस पर नारे हिंदी में, भ्रष्टाचार पर नारे हिंदी में, Corruption Day Slogans in Hindi 2018 अंतरराष्‍ट्रीय मानवाधिकार दिवस शायरी, International Human Rights Day Shayari, अंतरराष्‍ट्रीय मानवाधिकार दिवस, International Human Rights Day ढूंड रहे है तो आप यहा से प्राप्त कर सकते है और अपने सहपाठीओ के साथ शेयर कर सकते हो |

International Human Rights Day Shayari

अंतरराष्‍ट्रीय मानवाधिकार दिवस शायरी - International Human Rights Day Shayari

ग़र मानवाधिकार की दुकान में पहचान है तुम कराहे वो कत्ल के पूरे आसार देखे हैं Click To Tweet

क्यों बात करू अधिकारों की उनके? देव पुरुष हैं अपने वो!! कलयुग में दानव कह मानव, हर अधिकार जो रखता है!! Click To Tweet

कर्तव्य अधिकार का जनक है Click To Tweet

जब अपने देश के सिक्खों का कत्लेआम हुआ जब अपने ही देश के पंडितों की नृशंस हत्या हुई मानवाधिकार मर गये ..।

पर जब आतंकी को सज़ा दी जाए या दूसरे देश के लोगों को जाने को कह दिया जाए तो मानवाधिकार बंदर की तरह कूद पड़ता है

क्यों..इसलिए कि वो सब मुस्लिम हैं…तो क्या सिर्फ मुस्लिम ही मानव हैं..बाकी सब नहीं?

International Human Rights Day

अंतरराष्‍ट्रीय मानवाधिकार दिवस शायरी - International Human Rights Day Shayari

अंतरराष्‍ट्रीय मानवाधिकार दिवस शायरी – International Human Rights Day Shayari

विडंबना मेरे देश की